मेरी ओर से नवरात्रि की शुभकामनाएं करें स्वीकार!!

Meri Or Se Navratri Ki Shubhkamnaye Image Status
Meri Or Se Navratri Ki Shubhkamnaye Image Status

कुमकुम भरे कदमों से आए मां दुर्गा आपके द्वार,
सुख संपत्ति मिले आपको अपार,
मेरी ओर से नवरात्रि की शुभकामनाएं करें स्वीकार!
Happy Navratri


मां खाली झोलियां भर देना मुरादे
सभी की पूरी कर देना जो यह कोरोना दानव आया है
इसे मां जल्द ही भस्म कर देना..
दुर्गा महाष्टमी की सभी कॉ को हार्दिक बधाइयाँ


Happy Navratri Image Status in Hindi for Whatsapp
Happy Navratri Image Status in Hindi for Whatsapp

लाल रंग की चुनरी से
सजा मां का दरबार
हर्षित हुआ मन
पुलकित हुआ संसार
नन्हे-नन्हे कदमो से
मां आये आपके द्वार
नवरात्रि की शुभकामनाएं


दुर्गा माँ आपके घर में आए
खुशहाली भरपूर संग में लाए
दुख आपसे आँखे चुराए
हर त्योहार सर्वोत्तम बन जाए।
Happy Durga Ashtami

तुम्ही हो लक्ष्मी, दुर्गा, काली,
जय हो मेरी शेरावाली।


यह संसार ही जिसकी ताल है,
जो हर कण में बसी अकाल है।
जिसके आगे भय खुद झुके,
सः तविषी सर्वभूतानि नम्यते।
जो अपने अर्थ से कृपाल है,
जिसकी ममता पे सब निढाल है।
जहाँ अंधकार भी जाकर हैं पृथक्ते,
सः धात्री मम् नम्यते।
उसकी कोख से जन्मा त्रिखण्ड है,
जिसका काल रूप प्रचंड है।
जिसके हर रूप हैं आराध्यते,
सः जनयित्री सकल नम्यते।
-Anany Kunwar


Shubh Navratri Images Free Download
Shubh Navratri Images Free Download

मैया के दरबार में दुख-दर्द मिटाए जाते हैं,
जो भी दर पर आते है, शरण में लिए जाते हैं।
जय माता दी। शुभ नवरात्रि


साडी जीदगी भी हो गई रें निहाल की शेरोवाली ने सुन ली पुकार ।
खुशीयों से भर गए रे भंडार की शेरोवाली ने सुन ली पुकार।
है मेरी माँ शेरोवाली भर देती सब दी झोलियाँ खाली
साडी भी सुन ली रे पुकार की है शेरोवाली की जयजयकार।
साडी ज़िन्दगी भी हो गई रे निहाल की शेरोवाली ने सुन ली पुकार।
है मेरी माँ अम्बे काली भक्तो दे दुखड़े हारने वाली।
जो भी आता मा ते दर ते जांदा न वो कभी खाली।
सुन ली माँ ने साडी भी पुकार की शेरोवाली ने भर दिये
साड़े भी खुशियाँ नाल भंडार की शेरोवाली ने सुन ली पुकार।
साडी ज़िन्दगी भी हो गई रे निहाल की शेरोवाली ने सुन ली पुकार ।
माँ को है लाखो परनाम की शेरोवाली ने कर दिया बेड़ा पार ।
मेरी माँ दी लीला है अपरंपार की शेरोवाली ने रचा खेल अपार ।
साडी ज़िन्दगी भी हो गई रे निहाल की शेरोवाली ने सुन ली पुकार।
-Nishtha Nanda


कंजन अवतार लेकर नन्हे पग़ से आज स्वयं माता रानी घर पधारीं है
कोमल स्पर्श श्वेत रंग है जिनके वो मृगनयनी आज बाल रूप धर आयी है
दुर्गा, लक्ष्मी और सरस्वती नारी के हर रूप में वो शक्ति समायी है
यूँ ही नही बेटियाँ भाग की रेखा कहलायी है


सहज भाव से समेटकर अपनी आस्था को,
कुछ प्रेम के पुष्प, कुछ भक्ति का भाव अर्पित किया है।
मेरा कहा कुछ है सब तेरा ही समाहित है मुझमें
मां इसलिए स्वयं को ही चरणों में समर्पित किया है।





About Auther:

We provide Love, Friendship, Inspiration, Poems, Shayari, SMS, Wallpapers, Image Quotes in Hindi and English. if you have this type of content you can email us at anmolvachan.in@gmail.com to get publish here.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

2 × one =